World Test Championship: वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप फाइनल के लिए टीम इंडिया को इंग्लैंड जल्दी रवाना होना पड़ सकता है, ये है वजह

Covid 19

न्यूजीलैंड के खिलाफ साउथैम्प्टन में 18 जून से शुरू होने वाले विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप फाइनल के लिए टीम इंडिया इंग्लैंड थोड़े पहले रवाना हो सकती है. कोविड -19 महामारी की वजह से लगे ट्रैवल बैन के बीच टीम मई के अंतिम सप्ताह तक रवाना हो सकती है.  

भारतीय क्रिकेट टीम साउथैम्प्टन में 18 जून से न्यूजीलैंड के खिलाफ शुरू होने वाले विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप फाइनल के लिए इंग्लैंड थोड़े पहले रवाना हो सकती है. टीम के जून के पहले सप्ताह में इंग्लैंड के लिए रवाना होने की उम्मीद थी, लेकिन कोविड -19 महामारी के कारण लगे ट्रैवल बैन के बीच टीम मई के अंतिम सप्ताह तक रवाना हो सकती है.
  
भारत और न्यूजीलैंड के खिलाड़ियों के आईपीएल के पूरा होने के बाद एक चार्टर्ड विमान से यूके जाने की उम्मीद थी. हालांकि कई खिलाड़ियों के संक्रमित होने के बाद आईपीएल को अनिश्चित काल के लिए स्थगित कर दिया गया है. 

यूके सरकार और क्रिकेट बोर्ड की चल रही बातचीत 
भारत के क्रिकेटरों की यूके की यात्रा सुनिश्चित करने के लिए यूके सरकार और इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड के साथ बातचीत चल रही है. ब्रिटिश सरकार ने 23 अप्रैल से भारतीय नागरिकों के प्रवेश पर प्रतिबंध लगाते हुए भारत को ‘रेड लिस्ट’ में डाल रखा है. यहां तक कि ब्रिटिश और आयरिश नागरिक के लिए इंग्लैंड आने पर होटल में क्वारंटीन रहना होगा.

बीसीसीआई को टीम की लिस्ट पहले देने के लिए कहा जा सकता है
भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड को भारतीय टेस्ट टीम की लिस्ट सबमिट करने के लिए कहा जाएगा, जिसमें विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप फाइनल और इंग्लैंड के बाद टेस्ट श्रृंखला के लिए खिलाड़ी, सहयोगी स्टाफ और अधिकारी शामिल होंगे. भारतीय टीम 4 अगस्त से 5 मैचों की टेस्ट सीरीज भी इंग्लैंड के खिलाफ वहां खेलेगी.  

दोनों क्रिकेट बोर्ड ब्रिटिश सरकार के साथ क्वारंटीन नियम बनाने के लिए बातचीच कर सकते हैं. 14 दिन की क्वारंटीन अवधि आवश्यक है लेकि  यह देखना होगा कि क्या उस अवधि के दौरान भारत के खिलाड़ियों को टैनिंग की अनुमति दी जाएगी.

दौरे के लिए जंबो टीम की हो सकती है घोषणा
बीसीसीआई  को विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप फाइनल और टेस्ट सीरीज के लिए टीम की घोषणा थोड़े समय पहले  करनी पड़ सकती है ताकि सभी आवश्यक सरकारी परमिशन के लिए परेशानी का सामना नहीं करना पड़े.  ऑस्ट्रेलिया के अपने दौरे की तरह  इंग्लैंड दौरे पर भी एक जंबो टीम जा सकती है.

Source – ABP Live

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *