Monsoon Session Live: राज्यसभा की कार्यवाही एक बार फिर शुरू, कोरोना पर हो रही है चर्चा

Monsoon Session 2021

Monsoon Session Live: विपक्ष जासूसी कांड से लेकर कृषि कानून और महंगाई जैसे मुद्दों पर लगातार सरकार को घेरने की कोशिश कर रहा है. विपक्ष विरोध प्रदर्शन कर इन मुद्दों पर चर्चा की मांग कर रहा है.

राज्यसभा की कार्यवाही फिर शुरू

संसद के मानसून सत्र का आज दूसरा दिन है. इस बीच राज्यसभा की कार्यवाही एक बार फिर शुरू हो गई है. हालांकि विपक्ष के नेता अभी भी सदन में सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर रहे हैं. इससे पहले विपक्ष के जोरदार हंगामे के चलते सदन की कार्यवाही एक बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई थी.

कृषि कानूनों के खिलाफ संसद के बाहर अकाली दल का विरोध प्रदर्शन

शिरोमणि अकाली दल ने कृषि कानूनों के खिलाफ संसद के बाहर विरोध प्रदर्शन किया. शिरोमणि अकाली दल की नेता हरसिमरत कौर ने बताया, “इन कृषि कानूनों के खिलाफ सिर्फ शिरोमणि अकाली दल खड़ा है, कांग्रेस अपनी कुर्सी बचाने में लगी हुई है.”

कांग्रेस सोच रही है कि सत्ता और पीएम पर उनका अधिकार है- प्रहलाद जोशी

BJP संसदीय दल की बैठक पर केंद्रीय संसदीय कार्य मंत्री प्रहलाद जोशी ने कहा है कि पीएम मोदी ने विपक्ष की धारणा पर चिंता व्यक्त की, लोगों का मुद्दा उठाने की बजाए कांग्रेस सोच रही है कि सत्ता और पीएम पर उनका अधिकार है. हम 2 साल से महामारी झेल रहे हैं, लेकिन कांग्रेस बहुत गैर-जिम्मेदाराना व्यवहार कर रही है.

विपक्ष के हंगामे की भेंट चढ़ता नज़र आ रहा है दूसरा दिन

मानसून सत्र का दूसरा दिन भी आज विपक्ष के हंगामे की भेंट चढ़ता नज़र आ रहा है. विपक्ष के हंगामे के बीच राज्यसभा की कार्यवाही दोपहर 12 बजे तक और लोकसभा की 2 बजे तक स्थगित कर दी गई है. 

पहले डिस्कसन उसके बाद प्रेजेंटेशन- कांग्रेस

सरकार की ओर से आज बुलाई गई सर्वदलीय बैठक को लेकर कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा है कि पहले डिस्कसन उसके बाद प्रेजेंटेशन. अगर वे डिस्कसन नहीं चाहते और सभी सांसदों को प्रेजेंटेशन देना है तो सेंट्रल हाल में दें. अगर कोविड की वजह से आप एक ही जगह नहीं बैठा सकते तो 2 दिन कर सकते हैं या सुबह शाम एक दिन में भी कर सकते हैं.

राज्यसभा में ‘पेगासस प्रोजेक्ट’ पर बयान देंगे अश्विनी वैष्णव

इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री अश्विनी वैष्णव आज राज्यसभा में ‘पेगासस प्रोजेक्ट’ पर बयान देंगे. वहीं, कांग्रेस के लोकसभा सदस्य ‘पेगासस प्रोजेक्ट’ मीडिया रिपोर्ट के मुद्दे पर फ्लोर रणनीति तैयार करने के लिए आज सुबह 10:30 बजे सीपीपी कार्यालय में बैठक करेंगे.

फ्लोर रणनीति तैयार करने के लिए कांग्रेस की बैठक

कांग्रेस के लोकसभा सदस्य ‘पेगासस प्रोजेक्ट’ मीडिया रिपोर्ट के मुद्दे पर फ्लोर रणनीति तैयार करने के लिए आज सुबह 10:30 बजे सीपीपी कार्यालय में बैठक करेंगे. आज शाम 6 सरकार राज्य सभा और लोकसभा के सभी फ़्लोर लीडर्स को कोरोना पर प्रजेंटेशन देगी.

सम्भावित तीसरी लहर की तैयारियों की तस्वीर सामने रखेगी सरकार

सरकार कोरोना के वर्तमान हालात और उसकी शुरुआत से लेकर, पहली और दूसरी लहर और सम्भावित तीसरी लहर की तैयारियों को लेकर भी तस्वीर तमाम नेताओं के सामने रखेगी. क़ोरोना पर प्रजेंटेशन के मौक़े पर सरकार की तरफ़ से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, गृह मंत्री अमित शाह, स्वास्थ्य मंत्री मनसुख भाई मडाविया, वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल मौजूद रहेंगे. सरकार इस बार नए अवतार में दिख रही है, देश के बाहरी और भीतरी मुद्दों पर विपक्ष और तमाम दलों को साथ लेने और संतुष्ट करने की कोशिश करती नज़र आ रही है.

विपक्ष को संतुष्ट करने की कोशिश में जुटी सरकार

देश के सुरक्षा हालत पर पूर्व रक्षा मंत्रियों को ब्रीफ़ करने के बाद सरकार एक बार फिर विपक्ष को संतुष्ट करने की कोशिश में जुट गयी है. अबकि बार सरकार कोरोना के मोर्चे पर विपक्ष के सवालों के जवाब देगी. इसके लिए संसद सत्र के अतिरिक्त विपक्ष की सभी पार्टियों के संसदीय दल के नेताओं के सामने पूरी तस्वीर एक प्रजेंटेशन के ज़रिए रखेगी. इस मौक़े पर स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारी प्रधानमंत्री की मौजूदगी में प्रजेंटेशन देंगे. विपक्ष के साथ ये बैठक आज शाम 6 बजे संसद की पार्लियामेंट एनेक्सी बिल्डिंग में होगी.

सभी फ़्लोर लीडर्स को कोरोना पर प्रजेंटेशन देगी सरकार

आज शाम 6 सरकार राज्य सभा और लोकसभा के सभी फ़्लोर लीडर्स को कोरोना पर प्रजेंटेशन देगी. सरकार की तरफ़ से पीएम मोदी, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, गृह मंत्री अमित शाह, स्वास्थ्य मंत्री और वाणिज्य मंत्री मौजूद रहेंगे.

बैकग्राउंड

Monsoon Session Live: संसद के मानसून सत्र का आज दूसरा दिन है. आज का दिन भी विपक्ष के हंगामे की भेंट चढ़ सकता है, क्योंकि विपक्ष जासूसी कांड से लेकर कृषि कानून और महंगाई जैसे मुद्दों पर लगातार सरकार को घेरने की कोशिश कर रहा है. हालांकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तरफ से यह जरूर बता दिया गया कि जनता से जुड़े हुए सभी मुद्दों पर चर्चा की जाएगी, लेकिन वह चर्चा शांति के माहौल में होनी चाहिए और विपक्ष लगातार विरोध प्रदर्शन कर और हंगामा कर इन मुद्दों पर चर्चा की मांग कर रहा है.

कल खूब हुआ हंगामा

संसद के मानसून सत्र की सोमवार को हंगामेदार शुरूआत हुई और विभिन्न मुद्दों को लेकर सरकार को घेरने के मकसद से विपक्ष के हंगामे के कारण दोनों सदनों की बैठक बार बार बाधित हुई. हंगामे के कारण पीएम मोदी अपनी मंत्रिपरिषद के सदस्यों का परिचय भी नहीं करवा पाए. हंगामे के कारण लोकसभा दो बार और राज्यसभा तीन बार के स्थगन के बाद पूरे दिन के लिए स्थगित कर दी गई थी.

नए मंत्रियों का परिचय भी नहीं करवा पाए पीएम मोदी

विभिन्न मुद्दों को लेकर विपक्ष के सदस्यों के हंगामे के चलते नये मंत्रियों का परिचय दोनों सदनों में नहीं करवाए जाने से क्षुब्ध प्रधानमंत्री मोदी ने आरोप लगाया कि विपक्ष की महिला, आदिवासी एवं दलित विरोधी मानसिकता के कारण यह सब किया जा रहे हैं, क्योंकि नये बने मंत्रियों में से अधिकतर इन्हीं वर्गों के हैं. दोनों सदनों में विपक्षी सदस्य तीन नये कृषि काननों, महंगाई सहित विभिन्न मुद्दों पर नारेबाजी करते दिखे. कुछ विपक्षी सदस्यों ने आसन के समक्ष आकर नारेबाजी भी की.

Source – ABP Live

Leave a Reply

Your email address will not be published.