Indian Idol 12 : हेमा मालिनी के पास बैठने के लिए धर्मेंद्र को बेलने पड़े थे पापड़, होने वाले ससुर के सामने की थी ये हरकत

हेमा मालिनी ( Hema Malini ) ने कहा, जब वो और धर्मेंद्र ( Dharmendra ) एक दूसरे को डेट कर रहे थे. उन्होंने कहा जब वो दोनों एक गाने की शूटिंग कर रहे थे तब उस शूटिंग ( Shooting ) में हेमा मालिनी के पिता उनके साथ आते थे ताकि वो धर्मेंद्र के साथ अकेले में वक्त ना बिता सकें.

सोनी टीवी ( Sony Tv ) के सिंगिंग रियलिटी शो इंडियन आइडल 12 ( Indian Idol 12 ) में आज बॉलीवुड की दिग्गज एक्ट्रेस हेमा मालिनी (Hema Malini) ने अपने मौजूदगी से सेट की शोभा बढ़ाई. बॉलीवुड की ये ड्रीम गर्ल ( Dream Girl Of Bollywood ) आज इंडियन आइडल के मंच पर अपने 6 दशक से ज्यादा लंबे करियर के साथ-साथ दिग्गज एक्टर धर्मेंद्र (Dharmendra) के साथ अपनी लव स्टोरी के बारे में कई किस्से भी शेयर करती हुई नज़र आईं.

अपने शूटिंग के दिनों के किस्से सुनाते वक्त  हेमा मालिनी ने उनके और धर्मेंद्र के बारें में एक ऐसी बात बताई जो सुनकर सभी लोग दंग रह गए. दरअसल जब हेमा मालिनी के सामने इंडियन आइडल कंटेस्टेंट अंजलि गायकवाड़ ने हेमा मालिनी के ‘ऐ दिले नादान’ और ‘झूठे नैना बोले’ जैसे गानों पर परफॉर्म किया तब उनका शानदार परफॉर्मेंस देखकर सभी जज ने उनकी काफी तारीफ की. सिर्फ जज ही नहीं मंच पर उपस्थित ड्रीम गर्ल ने भी अंजलि को शाबासी दी.

शूटिंग के वक़्त साथ आते थे पिता

आज हेमा मालिनी के सामने दानिश खान ने आजा तेरी याद आईं गाना गाया. 1976 की चरस फिल्म का ये गाना धर्मेंद्र और हेमा मालिनी पर फिल्माया गया था. इस की शूटिंग भारत से बाहर हुई थी. उन दिनों को याद करते हुए हेमा मालिनी ने कहा, जब वो और धर्मेंद्र एक दूसरे को डेट कर रहे थे. उन्होंने कहा जब वो दोनों एक गाने की शूटिंग कर रहे थे तब उस शूटिंग में हेमा मालिनी के पिता उनके साथ आते थे ताकि वो धर्मेंद्र के साथ अकेले में वक्त ना बिता सकें. पिता के सामने हेमा मालिनी भी कुछ कर नहीं पाती थीं.

धर्मेंद्र ने भी नहीं मानी हार

उस घटना को याद करते हुए हेमा मालिनी ने बताया, ‘आमतौर पर शूटिंग के लिए मेरी मां या मेरी चाची मेरे साथ आती थीं, लेकिन एक गाने की शूटिंग में मेरे फादर मेरे साथ थे क्योंकि उन्हें इस बात की चिंता रहती थी कि कहीं मैं और धरम जी अकेले में वक्त ना बिता रहे हों. उन्हें पता था कि हम दोनों खास दोस्त हैं. मुझे याद है जब हम कार में जाते थे, तो मेरे पिता तुरंत मेरे बाजू वाली सीट पर बैठ जाते थे, लेकिन धरम जी भी कम नहीं थे, वो दूसरे बाजू की सीट पर बैठ जाते थे.’ धर्मजी कहते थे नहीं नहीं मुझे भी आपके साथ ही आना हैं. ये सब मजेदार था लेकिन दिलचस्प भी था.

Source – TV9 Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *