Dilip Kumar Death: अगर हमारे अपने बच्च होते तो बहुत अच्छा होता लेकिन…जानिए अपने बच्चे और Legacy पर क्या बोले थे दिलीप कुमार

Dilip Kumar

Dilip Kumar Death: हजारों बार उनसे उनके परिवार, पत्नी और बच्चों को लेकर सवाल पूछ गए लेकिन उन्होंने कभी कुछ नहीं कहा. इसका जिक्र उन्होंने अपनी बायोग्राफी में किया है.

दिलीप कुमार अपनी पर्सनल लाइफ को बहुत प्राइवेट रखते थे. उन्हें इस बारे में पब्लिकली बात करना पसंद नहीं था. हजारों बार उनसे उनके परिवार, पत्नी और बच्चों को लेकर सवाल पूछ गए लेकिन उन्होंने कभी कुछ नहीं कहा. इसका जिक्र उन्होंने अपनी बायोग्राफी में किया है.

कई बार ऐसी खबरें भी छपीं कि सायरा बानो बच्चें नहीं पैदा कर सकतीं. दिलीप कुमार ने लिखा है कि ये सब गलत था. उन्होंने अपनी बायोग्राफी में लिखा है-सच ये है कि सायरा बानो 1972 में प्रेग्नेंट थीं और 8वें महीने में उन्हें मिस कैरेज हो गया था. बाद में पता चला कि वो लड़का था. ये सब हाई ब्लड प्रेशर की वजह से हुआ. वो अस्पताल में थीं और जो डॉक्टर वहां मौजूद थे वो  कुछ मेडिकल वजहों से समय पर सर्जरी नहीं कर पाए.”

एक्टर से बहुत बार ये सवाल पूछा गया कि क्या इस बात को लेकर वो नाखुश हैं कि उनके अपने बच्चे नहीं है. इस पर दिलीप कुमार ने अपनी ऑटोबायोग्राफी में लिखा हैं, ”अगर हमारे अपने बच्च होते तो बहुत अच्छा होता लेकिन ये हमारे लिए अफसोस बात नहीं है. भगवान ने हमारे परिवार में बहुत सारे प्यारे बच्चे दिए हैं. जब हम यंग थे तो मेरी बहनों के बच्चों हमारे घर आते थे और हम लोग उनके साथ बहुत क्वालिटी वक्त बिताते थे. उनके साथ रहकर हमें कभी ऐसा नहीं लगा कि वो हमारे बच्चे नहीं हैं.”

एक्टर बताते हैं कि परिवार उनके सभी बच्चे उनके यहां आते थे, रुकते थे और सभी लोग बैंडमिंटन सहित कई सारे गेम्स खेलते थे. बड़े होने के साथ-साथ सभी लोग अपने सपनों को पूरा करने के लिए आगे बढ़ गए. अब उनकी मुलाकत कभी-कभार ही होती थी. एक्टर लिखते हैं कि अगर हमारे अपने बच्चे होते तो उन्हें भी सपनों को पूरा करने के लिए हमसे दूर जाना पड़ता है और उनसे भी साल एक दो बार ही हमारी मुलाकात होती. इसलिए हमें अफसोस नहीं है. 

Dilip Kumar Death: अगर हमारे अपने बच्च होते तो बहुत अच्छा होता लेकिन...जानिए अपने बच्चे और Legacy पर क्या बोले थे दिलीप कुमार

बहुत ही इमोशनल होकर दिलीप कुमार ने बताया है कि वो बहुत कम उम्र में ही अपने छोटे भाइयों और बहनों के पैरेंट बन गए थे. वो लिखते हैं, ”ये एक बड़ी जिम्मेदारी थी जिससे कभी दुख भी होता था तो कभी खुशी भी मिलती थी. मेरी 6 बहनें और पांच भाई हैं. मैं पठान हूं और अपने परिवार को प्रोटेक्ट करना, उन्हें खुशी देने में ही हमें गर्व महसूस होता है.”

एक बार इंटरव्यू में उनसे पूछा गया कि उनकी Legacy को कौन आगे बढ़ाएगा तो उन्होंने बहुत ही उन्होंने कहा कि बहुत सारे एक्टर्स पहले से ही उनकी लेगेसी को आगे बढ़ा चुके हैं. उन्होंने कहा था, ”मैंने अपने दौर में जो काम किया उसे कई सारे एक्टर्स आगे लेकर जा रहे हैं. जब कोई एक्टर मेरे पास आकर कहता है कि वो मैं आपके रास्ते पर चलना चाहता हूं तो मुझे खुशी होती हैं.”

आपको बता दें कि इंडस्ट्री में दिलीप कुमार का शाहरुख खान के साथ गहरा लगाव है. दिलीप कुमार और उनकी पत्नी सायरा बानो उन्हें मुहबोला बेटा कहकर भी बुलाते हैं. एक इंटरव्यू में उन्होंने कहा भी था कि ‘अगर हमारा बेटा होता तो वो शाहरुख जैसा होता.’

आज दिलीप कुमार ने 98 साल की उम्र में आखिरी सांस ली. वो काफी दिनों से बीमार चल रहे थे.

Source – ABP live

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *