हार्दिक पांड्या को अब क्यों शुरू कर देनी चाहिए गेंदबाजी, आकाश चोपड़ा ने बताया कारण

Aakash Chopra

भारतीय टीम इस समय इंग्लैंड में भी है और श्रीलंका में भी है लेकिन हर कोई हार्दिक पांड्या की बात कर रहा है क्योंकि टी20 वर्ल्ड कप 2021 के लिए वे भारत के अहम खिलाड़ियों में से एक हैं।

नई दिल्ली, ऑनलाइन डेस्क। पूर्व भारतीय सलामी बल्लेबाज आकाश चोपड़ा का मानना है कि हार्दिक पांड्या को नियमित रूप से गेंदबाजी शुरू करने की जरूरत है, क्योंकि टीम इस साल के अंत में होने वाले टी20 विश्व कप के लिए तैयार हो रही है। चोपड़ा के अनुसार, हार्दिक अगर गेंदबाजी शुरू करते हैं तो भारतीय टीम बेहतर संतुलित होगी, क्योंकि वह टीम को बहुत सारे विकल्प और गहराई देंगे। साउथैंप्टन में न्यूजीलैंड के खिलाफ विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में भारत के हारने के बाद एक तेज गेंदबाजी ऑलराउंडर की कमी काफी महत्वपूर्ण साबित हुई।

हार्दिक पांड्या हाल के दिनों में बहुत कम गेंदबाजी कर रहे हैं और ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के खिलाफ मुट्ठी भर ओवरों को छोड़कर, ऑलराउंडर ने एक विशेषज्ञ बल्लेबाज के रूप में टीम में जगह पाई है। पिछले साल की तरह उन्होंने इस साल भी आइपीएल में एक भी ओवर नहीं फेंका था और प्रबंधन उनके कंधे और पीठ की चोट पर कड़ी नजर रखे हुए है। आकाश चोपड़ा का मानना है कि हार्दिक पांड्या तेज गेंदबाजी करने वाले ऑलराउंडर होने के कारण टीम को काफी संतुलन प्रदान करते हैं। रवींद्र जडेजा दूसरे ऑलराउंडर हैं, लेकिन वे स्पिन के विकल्प हैं।

अपने यूट्यूब चैनल पर बात करते हुए आकाश चोपड़ा ने कहा, “आप उसे टेस्ट क्रिकेट के लिए देख रहे थे, लेकिन वह वहां भी आपके लिए उपलब्ध नहीं हैं, क्योंकि वह गेंदबाजी नहीं कर रहे हैं। जब आप उस सहूलियत की दृष्टि से देखते हैं, तो हार्दिक पांड्या जैसा एक ही खिलाड़ी होता है, वह संतुलन प्रदान करता है। हार्दिक पांड्या एक तेज गेंदबाजी ऑलराउंडर के रूप में, रवींद्र जडेजा स्पिनिंग ऑलराउंडर के रूप में और उनके साथ वाशिंगटन सुंदर, यह एक शानदार टीम बन जाती है।”

आकाश चोपड़ा ने यह भी कहा कि टेस्ट क्रिकेट ही नहीं, बल्कि एकदिवसीय मैचों में 6 से 8 ओवर और टी20 मैच में अपना कोटा पूरा करने की कोशिश हार्दिक पांड्या को करना चाहिए, क्योंकि इससे भारत को पूरी तरह से बैलेंट टीम मिलेगी। हार्दिक पांड्या के पास स्विंग या फिर कोई ज्यादा गति नहीं है, लेकिन वे मिश्रण के कारण विकेट निकालने में और रन बचाने में सक्षम हो जाते हैं। यही कारण है कि वे तेज गेंदबाजी ऑलराउंडर के रूप में सर्वश्रेष्ठ विकल्प हैं।

Source – jagran

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *