बॉलीवुड के बादशाह शाहरुख खान से मिलाने का झांसा देकर बंगाल से नाबालिग की तस्करी, रेलवे पुलिस ने किया रेस्क्यू

Shahrukh Khan

आरोपी ने पीड़ित लड़की को फेसबुक के जरिये अपने जाल में फंसाया था. इसने अपनी उम्र छुपाने के लिए अपने बेटे की फोटो फेसबुक पर प्रोफाइल पिक के तौर पर लगाई हुई थी.

मुंबई जीआरपी को मिली गुब्त जानकारी के आधार पर रेलवे पुलिस ने पश्चिम बंगाल से 17 साल की मासूम लड़की को बचाया है. उस लड़की बॉलीवुड के किंग यानी शाहरुख खान से मिलाने का झांसा देकर बहला फुसलाकर मुंबई लाया गया था. इसके अलावा पुलिस ने आरोपी को भी रंगेहाथ गिरफ्तार कर लिया.

दादर जीआरपी के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक ध्यानेश्वर काटकर ने बताया कि लड़की को ट्रैफिकिंग के तहत मुंबई लाया गया था. पीड़िता को झांसा दिया गया था कि उसे शाहरुख के बांद्रा स्थित बंगलो पर मिलाएंगे, इस झांसे के बाद लड़की आरोपी के साथ मुंबई आ गयी.

12वीं क्लास में पढ़ती है लड़की
काटकर ने बताया कि नाबालिग लड़की 12वीं क्लास में पढ़ती है आरोपी ने अपने आपको इवेंट मैनेजर बताया था और वादा किया था कि उसके कॉन्टेक्ट शाहरुख खान से है. गिरफ्तार आरोपी का नाम शुभन शेख है, जिसे जीआरपी ने मुंबई से सटे मीरा रॉड से गिरफ्तार किया.

पीड़िता कोलकत्ता से करीब 150 किलोमीटर दूर पालशिपारा नामक इलाके की रहने वाली है. पीड़िता को रेस्क्यू करने के बाद जीआरपी ने इस बात की जानकारी कोलकत्ता पुलिस को दी जो मुंबई पहुंचकर पीड़िता को वापस लेकर गई और इसी के साथ आरोपी की भी कस्टडी ली ताकि आगे की जांच की जा सके.https://imasdk.googleapis.com/js/core/bridge3.472.0_en.html#goog_1375877311Ad ends in 15s

कैसे जाल बिछाया गया था ?
पुलिस ने बताया कि शेख ने पीड़ित लड़की को फेसबुक के जरिये अपने जाल में फंसाया था. इसने अपनी उम्र छुपाने के लिए अपने बेटे की फोटो फेसबुक पर प्रोफाइल पिक के तौर पर लगाई हुई थी. ताकि लड़की को शक न हो और उसे फिर किंग खान से मिलाने का लालच देकर मुंबई बुलाया. उसके बाद जब लड़की झांसे में आ गई तो इसने लड़की को यह कहा कि मैंने कोविड से संक्रमित हूं तुमको लेने नहीं आ पाऊंगा इसलिए तुम मेरे पिता के साथ मुंबई आ जाओ उन्हें भेज रहा हूं.

आरोपी फिर पालशिपारा पीड़िता के इलाके में गया जहां लड़की कोचिंग पढ़ती थी. वहां से उसे लेकर कोलकत्ता स्टेशन पहुंचा. इस दौरान लड़की के सिम कार्ड को तोड़कर फेंक दिया जिससे कि लोकेशन ट्रैक न हो सके. इसी दौरान जब कुछ घंटे तक बेटी घर नहीं आई तो लड़की के परिवार वालो ने स्थानीय पुलिस में शिकायत दर्ज कराई.

पुलिस ने सभी रेलवे स्टेशनों को इसकी सूचना दी और साथ ही जब रेलवे स्टेशन का सीसीटीवी खंगाला तो दिखा आरोपी लड़की के साथ हावड़ा मेल में सवार हुआ है. उसके बाद दादर जीआरपी को सूचना दी गई जैसे ही ट्रेन दादर पहुंची लड़की को रेस्क्यू करा लिया गया और आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया. अब पुलिस यह जानने में जुटी है कि क्या लड़की की तस्करी के लिए मुंबई लाया गया था या फिर कोई और वजह थी. आखिर इस आरोपी के साथ कितने और लोग शामिल है.

Source – ABP Live

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *