बल्‍ले का ऐसा आतंक सुना तक नहीं होगा, साथी ओपनर जीरो पर आउट हुआ तब तक तो 70 रन बन चुके थे

क्रिकेट की दुनिया में विस्‍फोटक पारियां तो आपने भी खूब देखी होगी, लेकिन क्‍या इससे ज्‍यादा कहर बरपाते किसी बल्‍लेबाज को देखा है?

सिंगर कप फाइनल में सनत जयसूर्या ने आज ही के दिन 28 गेंदों पर 76 रन ठोके थे.

क्रिकेट की दुनिया में यूं तो आपने कई विस्‍फोटक पारियां देखी होंगी, लेकिन आज हम जिस बल्‍लेबाज की जिस पारी के बारे में बताने जा रहे हैं, वैसी बल्‍लेबाजी आपने शायद ही देखी या सुनी होगी. साल 1996 का था और ये मैच सिंगर कप का फाइनल मुकाबला था. इस खिताबी जंग में भिड़ने वाली टीमें थीं पाकिस्‍तान और श्रीलंका (Pakistan vs Sri Lanka). 1996 में आज ही के दिन यानी 7 अप्रैल को ही ये मैच खेला गया था. श्रीलंकाई ओपनर सनत जयसूर्या (Sanath Jayasuriya) ने इस मैच में अपने बल्‍ले से ऐसा कोहराम मचाया था जो फिर कभी देखने को नहीं मिला, लेकिन उनकी किस्‍मत इतनी खराब थी कि महज 17 गेंदों पर अर्धशतक जड़ने के बाद भी वो अपनी टीम को एक मामूली से लक्ष्‍य तक पहुंचाने में नाकामयाब रहे. आइए, जानते हैं पूरी कहानी.

मैच सिंगापुर में खेला गया था. पहले बल्‍लेबाजी करते हुए पाकिस्‍तान की टीम ने 215 रन बनाए. टीम के लिए एजाज अहमद ने सबसे ज्‍यादा 51 रन बनाए. वहीं रमीज राजा ने 37 रनों का योगदान दिया. श्रीलंका के लिए चामिंडा वास और मुथैया मुरलीधरन ने दो-दो विकेट लिए. अब यहां से शुरू होता है सनत जयसूर्या का कत्‍लेआम. जयसूर्या ने 216 रन के लक्ष्‍य का पीछा करते हुए मैदान पर उतरते ही घमासान मचा दिया. उन्‍होंने सिर्फ 17 गेंदों पर अर्धशतक ठोक डाला. इन सबमे मजे की बात तो ये रही कि जब उनके साथी ओपनर बल्‍लेबाज रोमेश कालूवितर्णा बिना खाता खोले आउट हुए तब तक तो स्‍कोरबोर्ड पर 70 रन टंग चुके थे. ये था जयसूर्या की तूफानी बल्‍लेबाजी का आलम. अर्धशतक के बाद तूफानी पारी को विस्‍तार देते हुए जयसूर्या ने चौकों और छक्‍कों की बारिश जारी रखी. वह 28 गेंदों पर 76 रन जड़कर आउट हुए.

इधर जयसूर्या का तूफान थमा, उधर पाकिस्‍तानी गेंदबाजों का जादू चला

सनत जयसूर्या ने इस जबरदस्‍त पारी में आठ चौके और पांच छक्‍के लगाए. उन्‍होंने ये रन 271 के हाहाकारी स्‍ट्राइक रेट से बनाए. मगर फिर भी पाकिस्‍तान ने ये मैच 43 रन के अच्‍छे खासे अंतर से अपने नाम किया. जयसूर्या जब टीम के 96 रन के स्‍कोर पर आउट हुए तो वो श्रीलंकाई टीम का दूसरा ही विकेट था. ऐसे में करीब 120 रन बनाने बाकी थे और जीत इतनी मुश्किल नहीं थी. मगर इधर जयसूर्या का तूफान थमा तो उधर पाकिस्‍तानी गेंदबाजों का कहर ढाना शुरू हो गया. सकलैन मुश्‍ताक और अता उर रहमान ने तीन-तीन विकेट आपस में बांटे तो वकार यूनूस और आकिब जावेद ने दो-दो बल्‍लेबाजों को पवेलियन की राह दिखाकर श्रीलंकाई पारी को 172 रनों पर समेट दिया.

इंटरनेशनल मैचों और आईपीएल में जयसूर्या का खेल

श्रीलंकाई दिग्‍गज सनत जयसूर्या ने देश के लिए 110 टेस्‍ट मैच खेले, जिनमें उन्‍होंने 40.07 के औसत से 6973 रन बनाए. टेस्‍ट में उनके बल्‍ले से 14 शतक और 31 अर्धशतक निकले. इनमें उनका उच्‍चतम स्‍कोर 340 रन रहा. टेस्‍ट में उन्‍होंने 98 विकेट भी हासिल किए. वहीं 445 वनडे में उनके नाम 323 विकेट दर्ज हैं जबकि बल्‍लेबाजी में 32.36 के औसत और 91.20 के स्‍ट्राइक रेट से 13430 रन बनाए. इनमें 28 शतक और 68 अर्धशतक शामिल हैं. वनडे में उनका सर्वाधिक स्‍कोर 189 रन है.

जयसूर्या ने इंडियन प्रीमियर लीग में भी हिस्‍सा लिया है. उन्‍होंने आईपीएल के शुरुआती तीन सीजन में हिस्‍सा लिया. जयसूर्या ने 2008 से लेकर 2010 तक मुंबई इंडियंस की ओर से 30 मैच खेले. इनमें उन्‍होंने 27.57 के औसत और 145.11 के स्‍ट्राइक रेट से 772 रन बनाए. इनमें नाबाद 114 रनों का एक शतक भी शामिल है. चार अर्धशतक भी आईपीएल में उनके नाम है.

Source – TV 9 Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *