दिलीप के नाम अमिताभ के शब्द: एक ऑटोग्राफ के लिए बिग बी ने किया था आधे घंटे तक इंतजार, अब यूं दी श्रद्धांजलि

Dilip Kumar

दिलीप कुमार अब नहीं रहे…ये बात सामने आ चुकी है, लेकिन दिल मानने को तैयार नहीं हो रहा है। दिलीप कुमार ने आज अंतिम सांस ली और हमेशा हमेशा के लिए अपने चाहने वालों को छोड़कर एक दूसरी दुनिया में चले गए। दिलीप कुमार के निधन से उनके परिवार, फैंस और बॉलीवुड को गहरा धक्का लगा है। दिलीप साहब का जाना एक युग का अंत है। उनके निधन पर बॉलीवुड के सितारे शोक जता रहे हैं। सदी के महानायक अमिताभ बच्चन भी दिलीप साहब के गुजर जाने से दुखी है।

बिग बी ने दी श्रद्धांजलि

उन्होंने कहा कि ये एक अभिनेता नहीं बल्कि एक संस्थान का अंत है। अमिताभ बच्चन ने ट्विटर पर दिग्गज अभिनेता के लिए शोक जताया है। उन्हें श्रद्धांजलि देते हुए बिग बी ने लिखा, ‘एक संस्था चली गई…भारतीय सिनेमा का इतिहास जब भी लिखा जाएगा वो हमेशा दिलीप कुमार से पहले और दिलीप कुमार के बाद लिखा जाएगा…मेरी दुआ है कि उनकी आत्मा को शांति मिले और ईश्वर परिवार को इस दुख को सहने की शक्ति दे….गहरा दुखा हुआ है’। 

अमिताभ बच्चन

अमिताभ बच्चन खुद दिलीप कुमार के बहुत बड़े फैन रहे हैं। सिनेमा के पिछले पन्नों को जब भी पलटा जाता है तो अमिताभ बच्चन का नाम हमेशा दिलीप कुमार के बाद ही आता है। अमिताभ बच्चन के आज लाखों-करोड़ों प्रशसंक हैं और उनके एक ऑटोग्राफ के लिए बेताब रहते हैं। वहीं बिग बी ने एक किस्सा सुनाया था जब वो दिलीप साहब का ऑटोग्राफ लेने के लिए आधे घंटे तक लाइन में खड़े रहे थे।

दिलीप कुमार, अमिताभ बच्चन

अमिताभ बच्चन ने एक होटल के बाहर आधे घंटे इंतजार किया था और तब जाकर उन्हें दिलीप कुमार का ऑटोग्राफ मिला था। उस वक्त शायद अमिताभ बच्चन ने भी नहीं सोचा होगा कि एक दिन इसी दिग्गज सितारे के साथ उन्हें फिल्म में काम करने का मौका मिलेगा। फिल्म ‘शक्ति’ में दिलीप कुमार और अमिताभ बच्चन ने साथ काम किया था। इस फिल्म के दौरान बिग बी काफी नर्वस हो गए थे। हालांकि ये फिल्म जबरदस्त हिट हुई और जानता ने माना कि दिलीप अमिताभ पर भारी पड़े थे।

दिलीप कुमार, अमिताभ बच्चन

दिलीप कुमार दिग्गज सितारे थे जिनके साथ काम करना अमिताभ बच्चन अपना सौभाग्य मानते हैं। ‘शक्ति’ वो फिल्म थी जिसमें दर्शकों ने पहली बार दो शानदार कलाकारों को एक साथ काम करते देखा था। हालांकि इसके बाद दिलीप कुमार अभिताभ के साथ और किसी फिल्म में नजर नहीं आए। उनके साथ काम करने वाले सितारे जानते थे कि दिलीप साहब कोहिनूर क्यों है।आज की पीढ़ी उस दिग्गज कलाकार के साथ काम ना कर पाने का अफसोस कभी नहीं समझ पाएगी।

दिलीप कुमार

बता दें कि  दिलीप कुमार का अंतिम संस्कार  बुधवार को ही मुंबई के सांताक्रूज कब्रिस्तान में किया जाएगा। उनका पार्थिव शरीर इस वक्त उनके घर पर है जहां सितारे उनके अंतिम दर्शन के लिए पहुंच रहे हैं। उनके अंतिम संस्कार में महज 20 लोगों को शामिल होंगे। 

Source – amarujala

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *