कोरोना की दूसरी लहर पर मौतों के गलत आंकड़ों पर स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा- बिना तथ्यों के फैलाई गई गलत जानकारी

COVID-19 deaths

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि एक प्रसिद्ध अंतरराष्ट्रीय पत्रिका ने एक लेख में अनुमान लगाया कि भारत को अधिकारिक कोरोना की मौतों की तुलना में शायद 5 से 7 गुना अधिक मौतों का सामना करना पड़ा है।

नई दिल्ली, एएनआइ। देश में कोरोना की दूसरी लहर के दौरान मौतों के आंकड़ों पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि विभिन्न विदेशी मीडिया द्वारा इस पर गलत जानकारी और कोरी अफवाहें फैलाई गईं। कोरोना से हुई मौतों पर विदेशी मीडिया में कई काल्पनिक लेख छपे जो बिना किसी आधार के और गलत सूचना दी गई प्रतीत होती हैं। इन लेखों का विकृत विश्लेषण बिना किसी महामारी विज्ञान के सबूतों व डेटा के बिना आधारित है। 

इसके साथ ही मंत्रालय ने कहा कि एक प्रसिद्ध अंतरराष्ट्रीय पत्रिका ने एक लेख में अनुमान लगाया कि भारत को अधिकारिक कोरोना की मौतों की तुलना में शायद 5 से 7 गुना अधिक मौतों का सामना करना पड़ा है। पत्रिका द्वारा अधिक मृत्यु दर के अनुमान के रूप में उपयोग किए गए अध्ययन किसी देश या क्षेत्र की मृत्यु दर निर्धारित करने के लिए मान्य उपकरण नहीं हैं।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को आइसीएमआर द्वारा जारी गाइडलाइन के अनुसार भारत में कोरोना मौतों की उपयुक्त मौतों को रिकॉर्ड करना है। हमने नियमित रूप से जिलेवार मामलों और मौतों की दैनिक आधार पर निगरानी के लिए एक मजबूत रिपोर्टिंग तंत्र की आवश्यकता पर जोर दिया हुआ है।

पिछले 24 घंटों के दौरान 4 हजार से अधिक मौतें: स्वास्थ्य मंत्रालय

वहीं, दूसरी ओर भारत में बीते 24 घंटों में कोरोना संक्रमण के नए मामलों का आंकड़ा बीते 70 दिनों में बसे कम रिकॉर्ड किया गया। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार देश में पिछले 24 घंटों के दौरान 4 हजार से अधिक मौतें हुई। मंत्रालय ने बताया कि इस अवधि में 1,21,311 संक्रमित ठीक होकर अस्पताल से डिस्चार्ज किए गए।शनिवार को जारी आंकड़ों के अनुसार, 24 घंटों में 84,332 नए मामले आए जो 70 दिनों बाद सबसे कम हैं।

Source – jagran. com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *